English
0360 - 2006296(कार्यालय)
0360 - 2006297(प्रशिक्षण)
0360 - 2006298(नेटवर्क)

“ हम वेबसाइट के हिन्दी रूपान्तरन एवं अनुवाद के लिए श्री. पंकज कुमार वर्मा, (पूर्व)वैज्ञानिक अधिकारी-एस.बी. और श्री. देब प्रसाद सिंह, प्रोग्रामर का आभार व्यक्त करते हैं !”

- राज्य सूचना-विज्ञान अधिकारी (अरुणाचल प्रदेश)

 
 

राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केन्द्र, ईटानगर में आपका स्वागत है

भारत के पूर्वोत्तर हिस्से में अरुणाचल प्रदेश का क्षेत्रफल लगभग ८४,००० वर्ग किलोमीटर का है और पश्चिम में भूटान, उत्तर और पूर्वोत्तर में चीन और पूर्व में म्यांमार के साथ एक लंबी अंतरराष्ट्रीय सीमा है। यह उत्तर में बर्फ से ढके पहाड़ों से दक्षिण में ब्रह्मपुत्र घाटी के मैदानी इलाकों तक फैला हुआ है। क्षेत्रफल में अरुणाचल प्रदेश पूर्वोत्तर भारत का सबसे बड़ा राज्य है।

२०-नवम्बर-१९८७ को अरुणाचल एक पूर्ण विकसित राज्य बना। १९७२ तक, यह नेफा (पूर्वोत्तर फ्रंटियर एजेंसी) के रूप में जाना जाता था। २०-जनवरी-१९७२ को इसे केंद्र शासित प्रदेश का दर्जा दिया गया और अरुणाचल प्रदेश नाम दिया गया था।

राष्ट्रीय सूचना विज्ञान केन्द्र, अरुणाचल प्रदेश राज्य केंद्र प्रारंभिक रूप में ब्लॉक संख्या-४ , सिविल सचिवालय, ईटानगर के ३ मंजिल पर स्थापित किया गया था और १६ -नवंबर-१९८८ से कार्यशील है। वर्तमान में, यह २ तल, ब्लॉक नं -०३, सिविल सचिवालय से काम कर रहा है।

अरुणाचल प्रदेश के १७ जिलों और डी.सी कैपिटल कार्यालय में एनआईसी जिला केन्द्र स्थापित हैं। ये सभी जिला केन्द्र नेट के माध्यम से जिला मुख्यालयों को राज्य की राजधानी, ईटानगर और देश के बाकी हिस्सों से जोड़ने में सुविधा प्रदान करते हैं, और निकनैट के माध्यम से इंटरनेट उपलब्ध कराते हैं।

 

प्रसंग

अरुणाचल प्रदेश राज्य एकक ईटानगर मे २८-सितम्बर-२०१५ को द्वितीय तिमाही (जुलाई- सितंबर २०१५) राजभाषा संगोष्ठी का आयोजन
अरुणाचल प्रदेश राज्य एकक ईटानगर मे १८-सितम्बर-२०१५ को हिंदी पखवाड़ा के अंतर्गत समारोह एवं प्रतियोगिताओ का आयोजन
18-May-2015 पर टाउन प्लानिंग और शहरी स्थानीय निकायों, अरुणाचल प्रदेश विभाग की वेबसाइट के आधिकारिक लांच
पहला राज्य स्तर कुलपति मासिक समीक्षा बैठक
AP District Websites
AP District Websites
GOOD GOVERNANCE WITH YOUR PARTNERSHIP
NIC Service Desk